झारखंड बंद: समर्थकों ने मचाया उत्पात

झारखंड बंद: समर्थकों ने मचाया उत्पात
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

रांची.एसपीटी-सीएनटी एक्ट में संशोधन विधेयक विधानसभा से पारित होने के विरोध में झामुमो और विपक्षी दलों के झारखंड बंद संताल परगना में असरदार रहा. दुमका व साहेबगंज के बरहेट में बंद समर्थकों ने जमकर उत्पात मचाया. दुमका में बंद समर्थकों ने एक बस समेत तकरीबन 20 गाड़ियों को आग के हवाले किया. वहीं बरहेट बाजार और हटिया में बंद समर्थकों ने जमकर लूटपाट की. बंद समर्थकों को रोकने गयी पुलिस पर तीर चलायी. जिससे एक एएसआइ और एक जवान घायल हो गये. स्थिति बिगड़ता देख पुलिस ने छह राउंड फायरिंग की.

मौके पर दुमका में डीआइजी, डीसी, एसपी पुलिस बल के साथ कैंप कर रहे हैं. बरहेट में एसपी अतिरिक्त पुलिस बल के साथ पहुंचे. शाम तक स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बतायी गयी है. वहीं देवघर, जामताड़ा, गोड्डा व पाकुड़ में बंद शांतिपूर्ण रहा.

शाम को एकाएक उग्र हो गये बंद समर्थक

दुमका और बरहेट में दोपहर बाद एकाएक बंद समर्थक उग्र हो गये. उग्र बंद समर्थकों ने दुमका एसपी कॉलेज के सामने खड़ी बस व एक दर्जन से अधिक ट्रकों में आग लगा दी. आगजनी के दौरान एक टैंकर और एलपीजी लदे ट्रक भी फंसे थे. लेकिन किसी तरह आग पर काबू पाया गया. इससे बड़ी दुर्घटना टल गयी.

डीआइजी ने कहा

छह वाहनों को नुकसान पहुंचा है. स्थिति सामान्य करने की कोशिश की जा रही है. जांच कर आगे की उचित कार्रवाई की जायेगी. – अखिलेश कुमार झा, डीआइजी, दुमका प्रक्षेत्रसंताल परगना के छह जिले में तकरीबन 3500 से भी अधिक बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया गया. सर्वाधिक गिरफ्तारी पाकुड़ में हुई है. यहां 1353 बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया गया.

गिरफ्तार होने वाले संताल के प्रमुख नेता

पूर्व स्पीकर शशांक शेखर भोक्ता, पूर्व मंत्री हाजी हुसैन अंसारी, पूर्व मंत्री सुरेश पासवान, विधायक अनिल मुर्मू, विधायक इरफान अंसारी, विधायक रवींद्रनाथ महतो, विधायक बादल पत्रलेख, पूर्व विधायक संजय प्रसाद यादव, पूर्व विधायक अकिल अख्तर आदि

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *