'PM ने बनाया 100 करोड़ वैक्‍सीनेशन को मुमकिन'… मोदी के साथ बैठक के बाद एक सुर में बोले वैक्‍सीन मैन्‍यूफैक्‍चरर्स

'PM ने बनाया 100 करोड़ वैक्‍सीनेशन को मुमकिन'… मोदी के साथ बैठक के बाद एक सुर में बोले वैक्‍सीन मैन्‍यूफैक्‍चरर्स
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

नई दिल्‍ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में वैक्‍सीन बनाने वाली कंपनियों के प्रमुखों के साथ बैठक की। इस बैठक में सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) और जायडस कैडिला सहित देश की सात प्रमुख वैक्‍सीन मैन्‍यूफैक्‍चरिंग फर्मों ने हिस्‍सा लिया। सभी ने एक सुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सहयोग को सराहा। साथ ही माना कि केंद्र सरकार के सहयोग के बिना 100 करोड़ के वैक्‍सीनेशन का लक्ष्‍य पूरा करना मुश्किल था।

सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया कि प्रधानमंत्री के साथ बैठक में कई मसलों पर बातचीत हुई। इसमें वैक्‍सीन इंडस्‍ट्री को आगे ले जाने का एजेंडा प्रमुखता से उठाया गया। इसके अलावा भविष्‍य में महामारियों से निपटने को लेकर तैयारियों पर भी बातचीत हुई।

पूनावाला ने प्रधानमंत्री मोदी के विजन की तारीफ की। साथ ही 100 करोड़ के वैक्‍सीनेशन के लक्ष्‍य को पूरा करने के लिए मुबारकबाद दी। उन्‍होंने बताया कि वैक्‍सीन मैन्‍यूफैक्‍चरिंग की क्षमता बढ़ाने पर फोकस किया जाएगा। बैठक में भी इस पर चर्चा हुई।

पूनावाला बोले, ‘सरकार के साथ इंडस्ट्री ने मिल कर काम किया। इसलिए 100 करोड़ वैक्सीनेशन का आंकड़ा हम हासिल कर सके। पीएम के साथ कैसे उद्योग को आगे बढ़ाया जाए, इस पर चर्चा की, ताकि भविष्य में आने वाली महामारी की तैयारी की जा सके।’

कैडिला हेल्‍थकेयर के चेयरमैन पंकज पटेल ने कहा कि अगर हमारे वैज्ञानिक डीएनए वैक्‍सीन डेवलप कर सके तो उसके पीछे सबसे बड़ा फैक्‍टर प्रधानमंत्री हैं। उन्‍होंने शुरू से मैन्‍यूफैक्‍चरर्स का मनोबल बढ़ाया। पीएम ने इनोवेशन को बढ़ावा दिया। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भी प्रधानमंत्री ने इस वैक्‍सीन का जिक्र किया।

एसआईआई के एमडी साइरस पूनावाला ने कहा कि पीएम के कारण ही 100 करोड़ वैक्‍सीनेशन का लक्ष्‍य पूरा हो सका। वैक्‍सीन इंडस्‍ट्री का प्रयास है कि भारत में दुनिया में सबसे सस्‍ती वैक्‍सीन की मैन्‍यूफैक्‍चरिंग हो। इस दिशा में पूरी इंडस्‍ट्री बढ़ रही है। इसमें सरकार का पूरा सहयोग मिला है।

प्रधानमंत्री से इस मुलाकात में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, भारत बायोटेक, डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, जाइडस कैडिला, बॉयोलॉजिकल ई, जेन्नोवा बायोफार्मा और पैनेसिया बायोटेक के प्रतिनिधि मौजूद थे। इनके अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री भारती पवार ने भी बैठक में शिरकत की। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, भारत में अब तक टीकों की 101.30 करोड़ खुराक दी जा चुकी है।

फोटो और समाचार साभार : नवभारत टाइम्स

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *