राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने ईद-उल-फित्र की पूर्व संध्या पर देशवासियों को बधाई दी – Watchnews24x7.com

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने ईद-उल-फित्र की पूर्व संध्या पर देशवासियों को बधाई दी

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने ईद-उल-फित्र की पूर्व संध्या पर देशवासियों को बधाई दी
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

नई दिल्ली : राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने ईद उल फित्र की पूर्व संध्या पर देश के नागरिकों को बधाई दी है।

राष्ट्रपति ने अपने संदेश में कहा, ‘देश के एवं विदेशों में बस चुके सभी भारतीय नागरिकों को ईद उल फित्र, जो रमजान के पवित्र महीने के दौरान प्रार्थनाओं और उपवास के बाद आता है, की शुभकामनाएं एवं बधाई। यह त्यौहार प्रेम, शांति, भाईचारा एवं सद्भाव की अभिव्यक्ति है। इस अवसर पर हम समाज के सबसे निर्बल वर्गों के लिए साझा करने तथा देखभाल करने के अपने विश्वास की फिर से पुष्टि करते हैं।

आईये, ऐसे समय में जब हम कोविड-19 वायरस द्वारा उत्पन्न अभूतपूर्व संकट का सामना कर रहे हैं, देने की भावना (जकात) को और जोशपूर्ण से आगे बढ़ायें। आईये हम सुरक्षित रहने और इस चुनौती से उबरने के लिए सोशल डिस्टैंसिंग नियमों और अन्य सभी सावधानियों का पालन करने का भी संकल्प करें।

ईश्वर करे, यह ईद उल फित्र विश्व में दया, दान और उम्मीद के सार्वभौमिक मूल्यों का सूत्रपात करे।

उपराष्ट्रपतिश्री एम. वेंकैया नायडू ने ईद-उल-फित्र के शुभ अवसर की पूर्व संध्या पर देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने ईद को परिवारों और समुदायों कोसाथ लाने का अवसर बताया। साथ ही उपराष्ट्रपति ने सभी लोगों सेपर्व के दौरान कोविड-19 से बचाव के सुरक्षा मापदंडोका पालन करने और सामाजिक दूरीबनाए रखने की अपील की।

उपराष्ट्रपति ने अपने संदेश में कहा कि, “मैं ईद-उल-फित्र के शुभ अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं और बधाई देता हूं। रिवायती तौर पर ईद उल फित्र पर रमज़ान के मुबारक माह की समाप्ति का उत्सव मनाया जाता है और इस्लामी कैलेंडर के दसवें माह शव्वाल की शुरुआत होती है। ये पर्व हमारे समाज में दान, दया, करुणा और त्याग जैसी इंसानी कद्रों का उत्सव है। इस मौके पर परिवार और समुदाय सभी साथ आ जाते हैं।

इस साल जब भारत और सारी दुनिया कोविड-19 महामारी से जूझ रही है, हम अपने लगभग सारे पारंपरिक पर्व घर में सीमित रह कर ही मना रहे हैं। इस वर्ष हमें अपनी खुशियों और उल्लास को सीमित ही रखना होगा और दो गज दूरी तथा सफाई जैसी सावधानियां बरतनी होंगी। फिर भी उम्मीद करता हूं किइस पावन पर्व कोहमपारंपरिक हर्ष, उल्लास, इबादत – दुआओं और भाईचारे की भावना के साथ मनाएंगे।

आशा करता हूं कि ईद उल फित्र हमारे जीवन में रहमत, बरकत, स्वास्थ्य और खुशहाली लाये।”

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *