इस देश में कोरोना से अधिक जानलेवा निमोनिया – Watchnews24x7.com

इस देश में कोरोना से अधिक जानलेवा निमोनिया

इस देश में कोरोना से अधिक जानलेवा निमोनिया
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

नूर सुल्तान
पूरी दुनिया जहां की विभीषिका से जूझ रही है। वहीं, से अबतक 1772 लोगों की मौत हो गई है। ने दावा किया है कि में निमोनिया से मरे लोगों की संख्या कोरोना से मरे लोगों की 6 गुने से भी ज्यादा है। वर्ल्डोमीटर के अनुसार, इस देश में कोरोना वायरस के अबतक 54,747 मामले सामने आए हैं, जबकि 264 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, कजाखिस्तान ने चीन के दावे को फेक बताया है।

चीन ने जारी किया अलर्ट
इस बीच चीन ने कजाखिस्तान में रहने वाले अपने नागरिकों को एक स्थानीय निमोनिया के प्रति आगाह करते हुए कहा है कि यह कोरोना वायरस संक्रमण से कहीं अधिक जानलेवा है। कजाखिस्तान में चीन के दूतावास ने वीचैट प्लेटफॉर्म पर एक बयान जारी करके कहा कि कजाखिस्तान में अज्ञात निमोनिया से इस वर्ष के शुरुआती छह माह में 1,772 लोगों की मौत हो गई है जिसमें अकेले 628 लोग जून माह में मारे गए हैं।

मरने वालों में चीनी नागरिक भी शामिल
इसमें कहा गया है कि मरने वालों में चीनी नागरिक भी शामिल हैं। चीन सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने शुक्रवार को दूतावास के बयान के हवाले से कहा कि कोविड-19 बीमारी की तुलना में इस बीमारी से बड़ी संख्या में मौत होने का खतरा है। कजाखिस्तान के स्वास्थ्य विभाग समेत अनेक संगठन निमोनिया के इस वायरस के बारे में अध्ययन कर रहे हैं। इसमें कहीं इस बात का जिक्र नहीं है कि कहीं यह बीमारी कोविड-19से जुड़ी तो नहीं हैं। कुछ चीनी विशेषज्ञों का मानना है कि इस निमोनिया को चीन में फैलने से रोकने के लिए कदम उठाने की जरूरत है।

चीन से लगी है कजाखिस्तान की सीमा
कजाखिस्तान की सीमा चीन के उत्तर पश्चिम शिनजियांग उइगुर स्वायत्त क्षेत्र से लगती है। दूतावास कजाखिस्तान में मौजूद अपने नागरिकों को वायरस को फैलने से रोकने के लिए कदम उठाने के लिए जागरुक कर रहा है। रिपोर्ट में कजाखिस्तान के मीडिया में आई उस खबर का जिक्र किया गया है जिसमें कजाखिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि निमोनिया से बीमार होने वाले लोगों की संख्या कोविड-19 से बीमार हुए लोगों की संख्या से दो या तीन गुना अधिक है।

कजाखिस्तान ने बताया ‘फेक न्यूज’
कजाकिस्तान ने चीन के दूतावास के बयान पर आधारित चीनी मीडिया रिपोर्टों को फेक न्यूज बताया है। मंत्रालय ने कहा कि बैक्टीरिया, फंगस और वायरस के साथ-साथ अनजान स्रोतों से होने वाले निमोनिया इन्फेक्शन विश्व स्वास्थ्य संगठनों के मानकों के अंदर ही हैं। मंत्रालय ने कहा कि कजाकिस्तान में नए तरीके के निमोनियो को लेकर चीनी मीडिया की जानकारी गलत है।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *