US चुनाव: आखिरी डिबेट के मुद्दों पर डोनाल्ड ट्रंप को आपत्ति, की बदले जाने की मांग – Watchnews24x7.com

US चुनाव: आखिरी डिबेट के मुद्दों पर डोनाल्ड ट्रंप को आपत्ति, की बदले जाने की मांग

US चुनाव: आखिरी डिबेट के मुद्दों पर डोनाल्ड ट्रंप को आपत्ति, की बदले जाने की मांग
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

वॉशिंगटन
डोनाल्ड ट्रंप का कैंपेन प्रेसिडेंशल डिबेट कमिशन पर ही भड़क गया। डिबेट के मुद्दों और नियमों में बदलाव को लेकर ट्रंप खेमे ने कमिशन पर निशाना साथा है। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होने में कुछ ही हफ्ते बचे हैं और अभी डेमोक्रैटिक कैंडिडेट जो बाइडेन से ट्रंप की आखिरी डिबेट बाकी है। इससे पहले होने वाली डिबेट ट्रंप के कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से वर्चुअली कराई जानी थी लेकिन ट्रंप ने उसका बहिष्कार कर दिया।

फिर से तय करें मुद्दे
अब करीब दो पन्ने के खत में ट्रंप के कैंपेन मैनेजर बिल स्टेपियन ने 22 अक्टूबर को होने वाली डिबेट को लेकर आरोप लगाया है कि कमिशन बाइडेन को फायदा पहुंचाने की कोशिश कर रहा है जिसकी वजह से डिबेट सीजन फेल हो गया है। बिल ने लिखा है, ‘कैंपेन की अखंडता और अमेरिका के लोगों की भलाई के लिए, हम आपसे अपील करते हैं कि फिर से सोचें और 22 अक्टूबर को होने वाली डिबेट के लिए, विदेश नीति पर जोर के साथ मुद्दे फिर से तय करें।’

6 मुद्दों का ऐलान
बिल का कहना है कि अभी तक विदेश नीति को आखिरी डिबेट में रखा जाता था लेकिन इस बार कमिशन या मॉडरेटर NBC की क्रिस्टन वॉकर ने इसका ऐलान नहीं किया है। पिछले शुक्रवार को कमिशन ने 6 मुद्दों का ऐलान किया था- कोरोना वायरस से लड़ाई, अमेरिका के परिवार, अमेरिका में नस्ल, जलवायु परिवर्तन, नैशनल सिक्यॉरिटी और नेतृत्व। डिबेट से जुड़े नियमों में बदलाव नहीं किया गया है लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में संकेत दिए गए हैं कि नियम तोड़ने पर कैंडिडेट्स के कमिशन माइक्रोफोन को बंद किया जा सकता है।

ऐंथनी फाउची पर बरसे ट्रंप
वहीं पहले से कोरोना वायरस की महामारी और उसे गंभीरता से नहीं लेने के चलते आलोचनाओं का सामना कर रहे ट्रंप ने अब देश के एक्सपर्ट डॉक्टर ऐंथनी फाउची पर निशाना साधा है। उन्होंने फाउची को ‘बेवकूफ’ बता डाला है। ट्रंप ने कहा है कि देश के लोग अब फाउची और सभी ‘बेवकूफों’ से कोरोना के बारे में सुन-सुनकर परेशान हो गए हैं। उन्होंने यहां तक कहा कि वह फाउची को हटा नहीं सकते हैं क्योंकि इससे उनके लिए ज्यादा समस्या खड़ी हो जाएगी।

(Source: Bloomberg, AP)

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *