दिल्‍ली, यूपी समेत उत्‍तर भारत के लिए अगले तीन दिन भारी, पड़ने वाली है और कड़ाके की ठंड

दिल्‍ली, यूपी समेत उत्‍तर भारत के लिए अगले तीन दिन भारी, पड़ने वाली है और कड़ाके की ठंड
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

नई दिल्‍ली
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को कहा कि पूर्वी भारत और तटीय आंध्र प्रदेश में बारिश अगले दो दिनों तक जारी रहेगी। अगले 4-5 दिन के दौरान उत्तर भारत में घना से बहुत घना कोहरा देखने को मिलेगा। आईएमडी ने अगले दो दिनों के लिए उत्तर पश्चिम भारत में ठंडे दिन की स्थिति की भी भविष्यवाणी की है। आईएमडी ने कहा, निचले क्षोभमंडल स्तरों में उत्तर आंतरिक कर्नाटक से उत्तर आंतरिक ओडिशा तक एक ट्रफ रेखा चलती है और निचले क्षोभमंडल स्तरों में दक्षिण कोंकण पर एक चक्रवाती सर्कुलेशन है, जिसके प्रभाव में काफी मध्यम वर्षा हो सकती है। 16 जनवरी तक तटीय आंध्र प्रदेश में बहुत संभावना है और शनिवार को मराठवाड़ा, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में हल्की / मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

आज कहां-कहां बारिश के आसार?शनिवार को, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और झारखंड में अलग-अलग हल्की / मध्यम वर्षा होने की संभावना है। उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में बिजली/ ओलों के साथ अलग-अलग गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है और अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग हल्की / मध्यम वर्षा होने की संभावना है। एक चक्रवाती सर्कुलेशन के प्रभाव में दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और एक अन्य दक्षिण तमिलनाडु पर निचले क्षोभमंडल स्तरों में; अगले 4-5 दिनों के दौरान तमिलनाडु, पुडुचेरी, कर्राइकल, केरल और माहे में अलग-अलग जगहों पर हल्की बारिश / गरज के साथ बूंदाबांदी पड़ने की संभावना है।

तापमान में ज्‍यादा बदलाव नहींदो ताजा पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित करने की बहुत संभावना है, पहला 16 जनवरी से, जिसके कारण 16 और 17 जनवरी को छिटपुट वर्षा होने की संभावना है; जबकि दूसरा 18 जनवरी से होगा और इसके बाद के 2-3 दिनों के लिए पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में हल्की/मध्यम से भारी बारिश और आसपास के मैदानी इलाकों में हल्की से छिटपुट वर्षा होने की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होगा और उसके बाद 2-3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी। यह भी कहा, अगले तीन दिनों के दौरान पूर्वी भारत में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होगा और उसके बाद 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट होगी।

उत्‍तरी राज्‍यों में शीतलहरअगले 24 घंटों के दौरान गुजरात और महाराष्ट्र में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होने की भविष्यवाणी की और कहा कि उसके बाद धीरे-धीरे 2-4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी। अगले दो दिनों के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पश्चिमी मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में शीत लहर की स्थिति बनने की संभावना है। अगले दो दिनों के दौरान पंजाब और हरियाणा, चंडीगढ़, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में काफी ठंड की स्थिति होने की संभावना है और अगले दो दिनों के दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों और अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश में ठंड बढ़ने की संभावना है।

आईएमडी के बुलेटिन में कहा गया है कि अगले दो दिनों के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र, राजस्थान, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में, अगले तीन दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में और उत्तर प्रदेश, बिहार और अगले पांच दिनों के दौरान उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम में रात/सुबह के घंटों में घना/बहुत घना कोहरा रहने की संभावना है।

फोटो और समाचार साभार : नवभारत टाइम्स

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *