MK-54 टॉरपीडो खरीदने के लिए भारत ने अमेरिका से किया करार, 423 करोड़ आएगी लागत

MK-54 टॉरपीडो खरीदने के लिए भारत ने अमेरिका से किया करार, 423 करोड़ आएगी लागत
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

नई दिल्ली
रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका की सरकार के साथ करार किया है। यह डील भारतीय नौसेना को मजबूत बनाने के लिए की गई है। इसके तहत उसके पनडुब्बी रोधी युद्धक विमान पी-8आई के लिए एमके 54 टॉरपीडो और चाफ व फ्लेयर्स जैसे एक्सपेंडेबल खरीदे जाएंगे। इस पर 423 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

मंत्रालय के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। भारतीय नौसेना के बेड़े में कुल 11 पी-8आई विमान हैं। इनकी मैन्‍यूफैक्‍चरिंग अमेरिकी एयरोस्‍पेस कंपनी बोइंग ने की है। पी-8आई विमान को इसकी पनडुब्बी रोधी युद्धक क्षमताओं के साथ ही आधुनिक समुद्री टोही क्षमताओं के लिए भी जाना जाता है।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्विटर पर लिखा, ‘रक्षा मंत्रालय ने भारतीय नौसेना के लिए 423 करोड़ रुपये की लागत पर एमके-54 टॉरपीडो और एक्सपेंडेबल (चाफ तथा फ्लेयर्स) की खरीद के लिए विदेश सैन्य बिक्री (एफएमएस) के तहत अमेरिका की सरकार के साथ करार पर हस्ताक्षर किए हैं।’

उन्होंने कहा, ‘ये उपकरण पी-8आई विमान के साजो-सामान हैं।’

फोटो और समाचार साभार : नवभारत टाइम्स

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *