हाफिज सईद को 10 साल की कैद, FATF के ऐक्शन से बचने को पाकिस्तान का नाटक? – Watchnews24x7.com

हाफिज सईद को 10 साल की कैद, FATF के ऐक्शन से बचने को पाकिस्तान का नाटक?

हाफिज सईद को 10 साल की कैद, FATF के ऐक्शन से बचने को पाकिस्तान का नाटक?
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

इस्लामाबाद
पाकिस्तान की एक अदालत ने मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड को 10 साल कैद की सजा सुनाई है। पाकिस्तान के ऊपर अपनी धरती पर पल रहे आतंकियों के खिलाफ ऐक्शन लेने का दबाव बना हुआ है। उसे फरवरी में होने वाली फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (FATF) की बैठक में ग्रे लिस्ट से बाहर आना है और इसलिए वह दिखावा करने में जुटा है कि उसने आतंक के खिलाफ कितने कदम उठाए हैं।

FATF की ग्रे लिस्ट से बाहर निकलना चाहता है पाक
अक्टूबर में हुई FATF की पूर्णकालिक बैठक में भी पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ काम न करने पर ग्रे लिस्ट में ही रखने पर सहमति बनी थी। FATF ने कहा था कि पाकिस्तान ने उसकी 27 कार्ययोजनाओं में से केवल 21 को ही पूरा किया है। इसमें भारत में वांछित आतंकवादियों मौलाना मसूद अजहर और हाफिज सईद के खिलाफ कार्रवाई न करना भी शामिल था।

लगाए थे प्रतिबंध
जानकारों का कहना है कि कोर्ट के सजा देने का असर सईद पर नहीं पड़ने वाला है। उसे जल्द ही नजरबंद कर दिया जाएगा और उसकी संपत्ति भी वापस कर दी जाएगी। इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने 18 अगस्त को दो अधिसूचनाएं जारी करते हुए 26/11 मुंबई हमले के साजिशकर्ता और जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम पर प्रतिबंधों की घोषणा की थी। इब्राहिम 1993 मुंबई बम विस्फोटों के बाद भारत के लिए सबसे वांछित आतंकवादी बन कर उभरा है।

मुंबई हमले का मास्टरमाइंड
हाफिज सईद के नेतृत्व वाला जेयूडी लश्कर-ए-तैयबा का मुखौटा संगठन है। लश्कर ही 2008 में हुए मुंबई हमले के लिये जिम्मेदार था। इस हमले में छह अमेरिकियों समेत 166 लोगों की मौत हुई थी। अमेरिकी वित्त विभाग ने सईद को खास तौर पर वैश्विक आतंकवादी घोषित किया था। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद प्रस्ताव 1267 के तहत दिसंबर 2008 में उसे आतंकी सूची में डाला गया।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

WatchNews 24x7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *