मोदी सरकार धान खरीदी में कभी शर्तें लगाती है तो कभी बोरा देने में रोक-कांग्रेस – Watchnews24x7.com

मोदी सरकार धान खरीदी में कभी शर्तें लगाती है तो कभी बोरा देने में रोक-कांग्रेस

मोदी सरकार धान खरीदी में कभी शर्तें लगाती है तो कभी बोरा देने में रोक-कांग्रेस
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

रायपुर/12 नवम्बर2020/केंद्र सरकार के द्वारा छत्तीसगढ़ को धान खरीदने मात्र 56 हजार गठान बोरा दिए जाने को कांग्रेस ने मोदी भाजपा का किसान विरोधी चरित्र करार दिया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र की मोदी भाजपा की सरकार छत्तीसगढ़ में धान खरीदी के समय हमेशा दिक्कत पैदा करते आ रही है।पहले धान खरीदी में नियम शर्ते लगाई गई अब धान खरीदने के लिए मांगी गई बोरा गठानों की संख्या में भारी कटौती कर दी गई है।इस वर्ष 20लाख किसानों से धान की खरीदी होनी है जिसके लिए राज्य सरकार को 4 लाख 75हजार गठान बोरा की आवश्यकता है।

तीन लाख पचास हजार गठान बोरा केंद्र सरकार से मांगी गई थी जिस पर रोक लगा दी गई है केंद्र सरकार के द्वारा दी गई 56 हजार गठान बोरा 20 लाख किसानों से धान खरीदने के लिए ऊंट के मुंह में जीरा के समान है।प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने मोदी भाजपा सरकार पर वादाखिलाफी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा को इस बात की पीड़ा है कि मोदी सरकार 2014 के लोकसभा चुनाव में जो देश भर के किसानों से किये वादा को पूरा करने में असफल हो गई है।किसानों को स्वामीनाथन कमेटी के सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य,सस्ते रसायनिक खाद,सस्ते डीजल अब नही मिला है। और उल्टा मोदी सरकार के तीन नए कृषि कानून के खिलाफ देशभर के किसानों में आक्रोश है।

वही एक राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने संसाधन पर अपने बलबूते पर नीतिगत फैसले लेकर किसानों को धान की कीमत2500 रु क्विं दे रहे है आर्थिक रूप से मजबूत बना रहे है किसानों को कर्ज मुक्त बनाये है।बिजली बिल हाफ की सुविधा दे रहे है।ऐसे में भाजपा नेताओं को ईर्ष्या हो रही है और छत्तीसगढ़ के किसानों के धान खरीदी को प्रभावित करने मोदी सरकार के साथ मिलकर केंद्रीय शक्तियों का दुरुपयोग कर भाजपा षड्यंत्र रच रही है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र में यूपीए सरकार थी उस दौरान छत्तीसगढ़ के रमन सरकार को धान खरीदी में हमेशा सहयोग करते रहिए समय पर बोरा की उपलब्धता कराती रही धान खरीदी में किसी प्रकार का नियम शर्ते नहीं लगाई लेकिन मोदी भाजपा की सरकार राजनीतिक दुर्भावना के चलते पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के नीति और नियत के कारण निरंतर छत्तीसगढ़ के किसानों के धान खरीदी पर अवरोध उत्पन्न कर रही है। भाजपा लाख षड्यंत्र कर ले छत्तीसगढ़ के किसानों को धान की कीमत 2500 रु ही मिलेगा किसानों से तय समय में बड़ी मात्रा में धान की खरीदी होगी।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *