साढ़े सात लाख युवाओं को मिलेगा इस वर्ष स्व-रोजगार – Watchnews24x7.com

साढ़े सात लाख युवाओं को मिलेगा इस वर्ष स्व-रोजगार

साढ़े सात लाख युवाओं को मिलेगा इस वर्ष स्व-रोजगार
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

भोपाल :मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस वर्ष साढ़े सात लाख युवाओं को स्व-रोजगार दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि हर संभाग में उत्कृष्ट महाविद्यालय बनाये जायेंगे। इनमें प्लेसमेंट सेंटर भी होगा। छात्रों को उत्तर-पुस्तिका देखने का प्रावधान लोक सेवा गारंटी अधिनियम में जोड़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवा पढ़ाई में जुटें और अपनी प्रतिभा को निखारें, सरकार उनकी पूरी मदद करेगी। श्री चौहान आज रीवा में युवा सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिये अथक प्रयास कर रही है। युवाओं को स्वयं का उद्यम स्थापित करने के लिये एक करोड़ रूपये की बैंक ऋण गारंटी को बढ़ाकर दो करोड़ रूपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं को पढ़ाई-लिखाई के उत्कृष्ट संसाधन मिले, इस दिशा में भी काम किया जा रहा है। पहली से कक्षा 12वीं तक नि:शुल्क पुस्तक, 8वीं तक यूनिफार्म और घर से 3 किलोमीटर स्कूल दूर होने पर ग्रामीण क्षेत्र में नि:शुल्क सायकल दी जा रही है। गाँव की बेटी योजना में 12वीं कक्षा में 60 प्रतिशत अंक लाने पर और कॉलेज में प्रवेश लेने पर अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा और अल्पसंख्यक वर्ग के साथ ही सामान्य वर्ग के गरीब विद्यार्थियों को भी 5 हजार रूपये की छात्रवृत्ति दी जा रही है। उन्होंने बताया कि 12वीं कक्षा में 85 प्रतिशत अंक लाने पर लेपटॉप दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने बताया कि हमारे प्रदेश के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिये बाहर नहीं जाना पड़े, इसके लिये अखिल भारतीय स्तर के इंस्टीटयूट खोले जा रहे हैं। प्रतिभावान बच्चों की पढ़ाई में गरीबी बाधा न बने इसके‍लिये सरकार ने निर्णय लिया है कि उनकी फीस माता-पिता नहीं बल्कि सरकार भरेगी। युवाओं को लोक सेवा और राज्य सेवा आयोग की कोचिंग भी नि:शुल्क दिलवाई जायेगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि अगले सत्र से 5वीं और 8वीं की बोर्ड परीक्षा फिर से शुरू की जायेगी। महाविद्यालयों में पीजी और रेगुलर अथॉरिटी कोर्स को छोड़कर सेमेस्टर सिस्टम को बंद किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना में 10 हजार से लेकर 2 करोड़ तक का बैंक ऋण सरकार की गारंटी पर दिया जायेगा। इस पर 15 प्रतिशत अनुदान और 5 साल तक 5 प्रतिशत तक का ब्याज सरकार भरेगी। सरकार द्वारा 100 करोड़ रूपये का वेंचर केपिटल फण्ड भी बनाया गया है। इससे युवाओं को नई कम्पनी बनाने में मदद दी जायेगी। उन्होंने युवाओं को नशीले पदार्थ का सेवन नहीं करने, बेटियों का सम्मान, पर्यावरण की रक्षा और हर वर्ष एक पेड़ लगाकर नदियों को दूषित होने से बचाने का संकल्प दिलवाया।

उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने बताया कि अगले शिक्षा सत्र से पाठ्यक्रम में कौशल उन्नयन के साथ 20 प्रतिशत पाठ्यक्रम नैतिक शिक्षा से संबंधित होगा। वाणिज्य-उद्योग मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि विंध्य के युवाओं में ऊर्जा है, जिसका उपयोग इस अंचल के साथ ही प्रदेश की उन्नति में किया जायेगा। तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दीपक जोशी ने बताया कि अगले शिक्षण सत्र से राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय हिन्दी माध्यम से परिक्षाएँ संचालित करेगा। उन्होंने कहा कि कौशल उन्नयन के लिये 1600 करोड़ के प्रोजेक्ट बनाये जायेंगे।

मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री विवाह और निकाह योजना में 501 जोड़ों को आशीर्वाद दिया। उन्होंने रीवा शहर को खुले में शौच से मुक्त होने पर महापौर सुश्री ममता गुप्ता को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने युवा उद्यमी द्वारा लगाये जाने वाले उद्योगों का शुभारंभ कर 10 हितग्राहियों को ई-रिक्शा वितरित किये। छात्रों को स्मार्ट फोन और दिव्यांग छात्रों को लेपटॉप दिये। मुख्यमंत्री ने लगभग 220 करोड़ की लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण और 5 करोड़ से अधिक के कामों का शिलान्यास किया। उन्होंने शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज, अनुसूचित जाति, जनजाति कन्या छात्रावास, मॉडल केरियर सेन्टर रीवा वनकुंइया मार्ग, कटरा क्योटी लालगाँव और मउगंज मार्ग का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने रोजगार मेले में युवाओं को नियुक्ति पत्र भी सौंपे।

सम्मेलन में सांसद श्री जनार्दन मिश्र, श्री गणेश सिंह, श्रीमती रीति पाठक, अध्यक्ष जिला पंचायत श्री अभय मिश्रा, अध्यक्ष व्यापार संवर्धन बोर्ड श्री मदन मोहन गुप्ता, विधायक एवं बड़ी संख्या में युवा उपस्थित थे।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *