धान खरीदी को लेकर भाजपा कर रही है झूठा प्रचार

धान खरीदी को लेकर भाजपा कर रही है झूठा प्रचार
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

रायपुर। भाजपा के द्वारा धान खरीदी को लेकर फैलाये जा रहे झूठ पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा का चरित्र ही किसान विरोधी है। भाजपा किसानों को लेकर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें। कांग्रेस पर झूठे आरोप मढ़ने के पहले भारतीय जनता पार्टी अपने गिरेबान में झांक कर देखें। भाजपा अपनी सरकार में 15 साल के किसान विरोधी कार्यकाल का स्मरण करें, जब लगातार किसान कर्ज़ को लेकर आत्महत्या करने को मजबूर थे। कांग्रेस ने तो किसानों की 11000 करोड़ की कर्ज माफी की है। किसानों की कोई हितेषी पार्टी है तो कांग्रेस पार्टी है। किसानों की हितैषी कोई सरकार है तो कांग्रेस की भूपेश बघेल जी की सरकार है। किसानों के साथ भूपेश बघेल की सरकार और कांग्रेस पार्टी खड़ी है। विगत वर्ष 15 लाख 71 हजार किसानों का धान खरीदा गया। छत्तीसगढ़ की कांग्रेस की सरकार इस वर्ष 19 लाख 52 हजार किसानों का धान खरीद रही है। भारतीय जनता पार्टी ने कुल 80 लाख टन धान खरीदा। हमारी सरकार ने अभी तक 78 लाख धान खरीदी है। हम भारतीय जनता पार्टी से ज्यादा धान खरीदी करने जा रही हैं। हमने ज्यादा किसानों का धान खरीदा। हम ज्यादा धान की खरीदी करने जा रहे हैं। हम किसानों को भाजपा की तुलना में ज्यादा दाम दे रहे हैं। ढाई हजार रू. प्रति क्विंटल कांग्रेस की सरकार किसानों को धान का दाम दे रही है। जिस भारतीय जनता पार्टी ने ढाई हजार रुपए दाम देने में बाधायें डाली वो किस मुंह से कांग्रेस पर धान खरीदी को लेकर आरोप लगाती है। राज्य में पंजीकृत 19 लाख 52 हजार 736 किसानों से प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान खरीदने राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। अभी तक 16 लाख से अधिक किसानों के द्वारा धान बेचा जा चुका है, 78 लाख से अधिक मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। बीते वर्ष 2018-2019 में 15 लाख 71 हजार किसानों से धान खरीदी किया गया था। आज की स्थिति में 16 लाख किसानों का धान खरीद कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार 78 लाख मैट्रिक टन से अधिक धान खरीद चुकी है।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *