रोमांटिक पार्टनर पास हो तो आप सह सकते हैं ज्यादा दर्द – Watchnews24x7.com

रोमांटिक पार्टनर पास हो तो आप सह सकते हैं ज्यादा दर्द

रोमांटिक पार्टनर पास हो तो आप सह सकते हैं ज्यादा दर्द
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

वैज्ञानिकों का दावा है कि अगर आपका रोमांटिक पार्टनर आपके करीब होता है तो आप ज्यादा दर्द सहन कर सकते हैं. यानी की आपके दर्द सहन करने की क्षमता बढ़ जाती है. वैज्ञानिकों का कहना है कि आपका पार्टनर चाहे आपसे बात करे या नहीं, आपका हाथ थामे या नहीं, लेकिन अगर आपकी नजरों के सामने रहता है तो दर्द सहन करने की आपकी क्षमता बढ़ जाती है. वैज्ञानिकों ने शोध के जरिए यह बात कही है.

इस शोध के लिए वैज्ञानिकों ने नाखूनों पर दबाव डाला और पता लगाया कि अगर किसी का पार्टनर उसके करीब है तो वह कितना दर्द सहन कर सकता है. नतीजे में जो बातें सामने आई उनमें देखा गया कि अगर कोई अकेले हैं तो उसे ज्यादा दर्द होता है जबकि जिन लोगों की नजरों के सामने उनका रोमांटिक पार्टनर होता है वे दर्द को सहन कर लेते हैं. इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ता कि कमरे में मौजूद पार्टनर उनसे बात करे या फिर उनके हाथों को थामे, जैसे ही व्यक्ति की नजरें उसके रोमांटिक पार्टनर से मिलती हैं, दर्द सहन करने की क्षमता में इजाफा हो जाता है.

वैज्ञानिकों ने देखा कि अगर किसी व्यक्ति का पार्टनर यानी की उसकी पत्नी या प्रेमिका दर्द में उससे सहानुभूति रखती है तो उसका दर्द निवारक प्रभाव बढ़ जाता है. आपने भी अक्सर देखा होगा कि जब आप बीमार पड़ते हैं ऐसी स्थिति में अगर आपको कोई करीबी आपके पास होता है तो आपको मजबूती मिलती है और आप दर्द को आसानी से सहन कर लेते हैं. आपकी इच्छाशक्ति बढ़ जाती है. वहीं, जब आप अकेले होते हैं और कोई बीमारी घेर लेती है तो आप ज्यादा ही परेशान हो जाते हैं. अब इस बात को ऑस्ट्रिया के वैज्ञानिकों ने अपने शोध में सिद्ध कर दिया है.

इस शोध से जुड़े प्रमुख वैज्ञानिक स्टीफन डस्क का कहना है कि पार्टनर के बात करने, करीब रहने और स्पर्श करने से दर्द की अनुभूति कम हो जाती है. उन्होंने कहा कि हमारे शोध में यह बात निकलकर सामने आई है कि रोमांटिक पार्टनर के आंखों के सामने होने की स्थिति में दर्द का दबाव कम महसूस होता है. इस शोध के लिए वैज्ञानिकों ने 48 कपल्स की मदद ली.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *