जरूरत पड़ी तो राम मंदिर के लिए फिर करेंगे आंदोलन शिवसेना : उद्धव ठाकरे

जरूरत पड़ी तो राम मंदिर के लिए फिर करेंगे आंदोलन शिवसेना : उद्धव ठाकरे
Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

अयोध्या : शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अपने 18 सांसदों के साथ रामलला के दरबार पहुंचे थे जहाँ उन्होंने ये बात कही. अयोध्या में उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि केंद्र में मजबूत सरकार है. मोदी सरकार अगर मंदिर बनाने के लिए कदम उठाती है तो हम साथ रहेंगे.

उद्धव ने कहा, केंद्र सरकार राम मंदिर निर्माण का फैसला करे और जल्दी राम मंदिर बने. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि ऑर्डिनेंस लाकर मंदिर बनाया जाए. उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो हम फिर मंदिर आंदोलन शुरू करेंगे.

उद्धव ने कहा, पिछली बार जब आया था तो लोगों को लगा कि मैं सियासत करने आया हूं लेकिन मैंने तभी नारा दिया था ‘पहले मंदिर फिर सरकार’.. मैंने कहा था कि मैं चुनाव के बाद फिर आऊंगा और मैंने अपना वादा निभाया. आज कह रहा हूं कि कि मंदिर बनेगा ही बनेगा.

बतादें केंद्र की मोदी सरकार दूसरी बार सत्ता में काबिज होने से पहले ही राम मंदिर के लिए अपनी प्रतिबद्धता स्वीकार कर चुकी है लेकिन मामला कोर्ट में होने के कारण अभी सब रुका हुआ है. पिछले दिनों ही शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने भी मोदी सरकार को राम मंदिर निर्माण के प्रति दिया गया वचन याद दिलाया था.

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर यह तर्क भी दिया कि वहां राम जन्मभूमि पर मस्जिद नाम की कभी कोई इमारत या भूमि थी ही नहीं. न कभी वहां बाबर आया और न ही इतिहास में वहां मस्जिद को लेकर कोई उल्लेख है.

बतादें सन 2010 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विवादित जमीन को तीन हिस्सों में बांट दिया और रामलला विराजमान, निर्मोही अखाड़ा व सुन्नी वक्फ बोर्ड के बीच को सौंप भी दिया. अब इसी टाइटिल सूट पर आम सहमति के लिए सुप्रीम कोर्ट ने तीन सदस्यों का पैनल बनाया है, जिसे नई समय सीमा के तहत 15 अगस्त तक अपनी रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में दाखिल करनी है.

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

watchm7j

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *